Lyrics

Ik Tuhi Lyrics – Mausam

The Ik Tuhi Lyrics from Pankaj Kapoor’s Mausam starring Shahid and Sonam Kapoor. The Ek Tuhi Tuhi Song has been composed by Pritam and the lyrics have been written by Irshad Kamil.

Ik Tuhi Song Lyrics Details

Song Title: Ik Tu Hi Tu Hi
Music Director: Pritam Chakraborty
Lyricist: Irshad Kamil
Singer(s): Hans Raj Hans
Song Duration (mm:ss): 7:13

Ik Tuhi Lyrics

Jab jab chaha tune raj ke rulaya
Jab jab chaha tune khul ke hasaya
Jab jab chaha tune khud mein milaya
Ik tuhi tu hi tu hi tu hi tu hi tu hi

Jab jab chaha tune raj ke rulaya
Jab jab chaha tune khul ke hasaya
Jab jab chaha tune khud mein milaya
Ik tuhi tu hi tu hi tu hi tu hi tu hi

Maido toh hai….
Rab kho gaya
Maido toh hai….
Sab kho gaya
Teri ya mohabbata ne
Luti puti saaya
Teri ya mohabbata ne
Sachiya sathaaya
Kali haath modi na toh
Kali haath aaya
Maido toh hai….
Rab kho gaya
Maido toh hai….
Sab kho gaya

Jab jab chaha tune raj ke rulaya
Jab jab chaha tune khul ke hasaya
Jab jab chaha tune khud mein milaya
Ik tuhi tu hi tu hi tu hi tu hi tu hi

Kanch pe chalna
Aanch mein jalna
Kitne bhi dard hai.. maye
Sahena sakhe yeh jindadi

Zeher ko bike
Suli pe jeeke
Ik le do dum kabhi
Toh inn dardon se poote jindadi

Kanch pe chalna
Aanch mein jalna
Kitne bhi dard hai.. maye
Sahena sakhe yeh jindadi

Teri ye judai ik
Wak sare chote
Teri ye judai ik
Sukh sare khote

Pal pal hote mere
Dil bhi tote
Maido toh hai….
Rab kho gaya

Dil ki gagar se
Sath sagar se
Falke hai to kyun yeh
Bachon gariya bhi
Haira ho gaye

Saaz than mann ke
Sone se kan ke
Chaj mere tha jab mere
Ab toh veena ho gaye

Dil ki gagar se
Sath sagar se
Falke hai to kyun yeh
Bachon gariya bhi
Haira ho gaye

Teri ya mohabbata ne
Dukh bhi diye hai
Tere bina lakh wari
Marke jiye hain

Maido toh hai….
Rab kho gaya

Jab jab chaha tune raj ke rulaya
Jab jab chaha tune khul ke hasaya
Jab jab chaha tune khud mein milaya
Ik tu hi tu hi tu hi tu hi tu hi tu hi

Jab jab chaha tune raj ke rulaya
Jab jab chaha tune khul ke hasaya
Jab jab chaha tune khud mein milaya
Ik tu hi tu hi tu hi tu hi tu hi tu hi
Ik tu hi tu hi tu hi tu hi tu hi tu hi

Tags: Ek Tuhi Lyrics, Ik Tu hi Song Lyrics from Mausam

We have tried to perfect the Ik Tu Hi Lyrics. Still, there could be a few mistakes here and there. Please do drop in a comment below and we will get it rectified as soon as possible. Thanks

Advertisements

22 Comments

  • This is a perfect song……….. full love and i can’t say anthing just listin this songs

    Thumb up 9 Thumb down 1
  • तेरा शहर जो पीछे छुट रहा
    कुछ अंदर अंदर टूट रहा
    हैरान है मेरे दो नैना
    ये झरना कहाँ से फूट रहा

    जब जब चाहा तुने रज के रुलाया
    जब जब चाहा तुने खुल के हंसाया
    जब जब चाहा तुने खुद में मिलाया
    इक तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही

    जब जब चाहा तुने रज के रुलाया
    जब जब चाहा तुने खुल के हंसाया
    जब जब चाहा तुने खुद में मिलाया
    इक तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही
    इक तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही

    मैंडा तो है ….
    रब खो गया
    मैंडा तो है …. हाय ….
    सब खो गया

    तेरियाँ मोहब्बतां ने लुटी पुटी साइयां
    तेरियाँ मोहब्बतां ने सचिया सताइयां
    खाली हाथ मोड़ी न तू
    खाली हाथ आया
    मैंडा तो है ….
    रब खो गया
    मेंडा तो है ….
    सब खो गया

    जब जब चाहा तुने रज के रुलाया
    जब जब चाहा तुने खुल के हंसाया
    जब जब चाहा तुने खुद में मिलाया
    इक तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही

    जब जब चाहा तुने रज के रुलाया
    जब जब चाहा तुने खुल के हंसाया
    जब जब चाहा तुने खुद में मिलाया
    इक तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही
    इक तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही

    काँच पे चलना
    आँच में जलना
    जितने भी दर्द है .. माँये
    सह ना सके ये ज़िन्दङी

    ज़हर को पीके
    सूली पे जीके
    निकले तो दम कभी
    तो इन दर्दों से छुटे ज़िन्दङी

    यूँ वक़्त कटे मेरी जान घटे
    अरमान सभी टुकडो में बंटे

    काँच पे चलना
    आँच में जलना
    जितने भी दर्द है .. माँये
    सह ना सके ये ज़िन्दङी

    तेरियां जुदाईयाँ इक
    दुःख सारे छोटे
    तेरियां जुदाईयाँ इक
    सुख सारे खोटे

    पल पल होते मेरे
    दिल दे टोटे
    मैंडा तो है ….
    रब खो गया

    दिल की गागर से
    सात सागर से
    छलके है तो क्यूँ ये
    पांचों दरिया भी
    हैरां हो गए

    साज़ तन मन के
    सोने से खनके
    साथ मेरे था जब मेरा
    अब तो वीरां हो गए

    तेरे गम को मिटावां कैसे
    तुझको भुलावां कैसे
    लगियाँ निभावां कैसे
    बिछड़े को पावां कैसे

    दिल की गागर से
    सात सागर से
    छलके हैं तो क्यूँ ये
    पांचों दरिया भी
    हैरां हो गए

    तेरियाँ मोहब्बतां ने हक भी दिए है
    तेरियाँ मोहब्बतां ने दुःख भी दिए है
    तेरे बिना लाख वारी
    मार्के जिए हैं

    मैंडा तो है ….
    रब खो गया

    जब जब चाहा तुने रज के रुलाया
    जब जब चाहा तुने खुल के हंसाया
    जब जब चाहा तुने खुद में मिलाया
    इक तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही

    जब जब चाहा तुने रज के रुलाया
    जब जब चाहा तुने खुल के हंसाया
    जब जब चाहा तुने खुद में मिलाया
    इक तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही
    इक तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही तू ही

    Highly rated comment Thumb up 19 Thumb down 0
  • @ Neha Betala
    same here!
    I miss her too….
    Reh reh kar har ruth yahi kehti hay
    mujhay pyar karna na aaya
    usnay mangi bhi toh sirf doorie
    aur mujhay inkaar karna hay..
    Love you dear with same spirit…..

    Thumb up 2 Thumb down 0
  • I love dis song.hans raj paji tusi apni awaz ch inna dard kitho bharde ho. meinu thuda har song sundi
    ha. u r great.i want to meet u…….God bless u.

    Thumb up 0 Thumb down 0
  • awesome song goes straight to d heart lifts d sprit like it a lot i want to dedicate this song to daud jafri……..coz i love him madly, deeply ,intensely i dont have words 2 xpress mah love

    Thumb up 0 Thumb down 0
  • there are so many mistakes in this lyrics…. so, u r dedicating this song to your lover… plz make some corrections…
    but there is no doubt in saying that this song is an awesome song and moreover also worked hard in making it’s lyrics… thanx

    Thumb up 0 Thumb down 0

Leave a Comment